Sunday, 13 May 2018

भारत की संस्कृति को अक्षुण्ण बनाए रखने में डॉ. मन्तराम का योगदान सराहनीय : अमर अग्रवाल




बिलासपुर. भारत की संस्कृति को अक्षुण्ण बनाए रखने में डॉ. मन्तराम का योगदान सराहनीय है. उक्त उदगार डॉ. मन्तराम यादव के अभिनन्दन समारोह एवं अभिनन्दन ग्रंथ के विमोचन के अवसर पर मुख्य अतिथि की आसंदी श्री अमर अग्रवाल— नगरीय प्रशासन मंत्री, छग शासन ने व्यक्त ​की. इस अवसर पर उन्होंने डॉ. मन्तराम से मेरा संबंध तब से है जब मैं युवा मोर्चा था. शहरी परिवेश में तो कोई भी कार्यक्रम आयोजित करना ज्यादा कठिन नहीं है किन्तु दूरस्थअंचल के ग्रामीण क्षेत्रों में किसी भी कार्यक्रम का आयोजन करना बहुत कठिन है वो भी लोकसंस्कृति, लोकपरम्परा, लोकगीत, लोकनृत्य जैसे हमारे देश की संस्कृति के लिए करना जिसे डॉ.मन्तराम यादव ने बखूबी से निभाया और निरंतर 26 वर्षों से करते चले आ रहा है. उनका अभिनंदन तो इससे पहले हो जाना चाहिए था. आज डॉ. मन्तराम यादव 67 वर्ष के हो गए है मैं भगवान से आशा करता हू कि जब मैं 67 वर्ष को होउ तो इससे वृहद कार्यक्रम डॉ. मन्तराम यादव जी के जन्मदिन के अवसर पर करें. डॉ. मन्तराम यादव दीर्घायु हो, शतायु हो एवं हमेशा स्वस्थ रहे ऐसी कामना मैं इस अवसर पर करता हूं. कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. विनय कुमार पाठक ने की. विशिष्ट अतिथि के रुप में ​श्री किशोर राय—महापौर, नगर पालिक निगम बिलासपुर, श्री मिलिंद चहान्दे जनसंपर्क अधिकारी एसईसीएल, डॉ. आर.पी. दुबे कुलपति डॉ. सीवी रामन विवि कोटा थे.अभिनंदन ग्रंथ के संपादक श्री के.के. भटट एवं संयोजक श्री अश्विनी कुमार आलोक थे. कार्यक्रम का संचालन श्री हरबंश शुक्ला तथा आभार प्रदर्शन श्री तेरस यादव ने किया. आयोजन समिति में सर्वश्री राधेश्याम यादव, मूरित राम यादव, डॉ. रेखा पालेश्वर, प्रेमलाल यादव, इंजि ए.के. यदु, मनहरण लाल साहू, इंजि. रामलाल यादव, तेरस यादव, सुरेन्द्र सिंह ठाकुर,अभिनय यादव, सनत तिवारी, सहेत्तरुलाल यादव, देवफल यादव, नंदकुमार यादव, एम.एल. यादव, वीरेन्द्र यादव, शरद यादव, चंद्रकुमार तिवारी, श्रीमती वसन्ती वर्मा, श्रीमती किरण यादव, श्रीमती सविता यादव, श्रीमती पूजा यादव, श्रीमती परमेश्वरी यादव, श्रीमती सरिता यादव थे. इस अवसर पर रउताही कला वार्षिकी स्मारिका के द्वितीय खण्ड का विमोचन भी किया गया.

Sunday, 6 December 2015





बिलासपुर में रावत नाच महोत्सव का आयोजन 5 दिसम्बर 2015 को रखा गया था, इस अवसर के कुछ दृश्यों को मैने कैमरे में कैद कर लिया. वही चित्र आपके सामने पेश है.

बिलासपुर में रावत नाच महोत्सव का आयोजन 5 दिसम्बर 2015 को रखा गया था, इस अवसर के कुछ दृश्यों को मैने कैमरे में कैद कर लिया. वही चित्र आपके सामने पेश है.



बिलासपुर में रावत नाच महोत्सव का आयोजन 5 दिसम्बर 2015 को रखा गया था, इस अवसर के कुछ दृश्यों को मैने कैमरे में कैद कर लिया. वही चित्र आपके सामने पेश है.





बिलासपुर में रावत नाच महोत्सव का आयोजन 5 दिसम्बर 2015 को रखा गया था, इस अवसर के कुछ दृश्यों को मैने कैमरे में कैद कर लिया. वही चित्र आपको समर्पित है.